सोमवार, 7 मई 2012

ब्लाग पर बक बक शुरु... देव

दुनिया का सबसे बडा रोग.... जानें क्या कहेंगे लोग...  
हम तो कहते ही हैं की... 

किस किस को गाईए... किस किस को रोईए... 
आराम बडी चीज़ है भाई चद्दर तान के सोईए...  

जी बिल्कुल... जितनी टेंशन लेंगे उतनी ही टेंशन मिलेगी.... टेंशन को भेजिए पेंशन पर और मौज लीजिए ज़िन्दगी का.... आज कल की ज़िन्दगी में लोग छोटे छोटे मन मुटाव और ज़रा सी बात पर महाभारत खडी करनें लगते हैं... सो क्या आपके गुस्से और आपके क्रोध की यही इंतहा है की उसे बिना वजह कहीं भी निकाल लिया जाए.... क्रोध को पालना सीखना भी एक कला है... हर लडाई उसी समय खत्म नहीं की जा सकती... क्षणिक उत्तेजना में बडे फ़ैसले नहीं लिए जा सकते हैं।  सो मौज उडानें की कला सीखिए और देव बाबा के साथ हंसिये और गुदगुदाईए.....  लीजिए कुछ चुटकुले झेलिए.... 

--------------------

पत्नी - अगर मुझे कुछ हो गया तो क्या आप तुरंत दूसरी शादी कर लेंगे ?
.
.
.
पति (सोच कर) – नहीं… कम से कम 2-3 महीने तो रुकना पड़ेगा वरना लोग क्या कहेंगे !

--------------------
संता ने बैंक से कर्जा लेकर एक कार खरीदी.
किश्त नहीं चुका पाया तो बैंक वाले कार उठाकर ले गए.
संता ने रोते-रोते अपने दोस्त बंता से कहा  - “पहले पता होता तो शादी भी बैंक से कर्जा लेकर ही करता ….”

--------------------

संता (डॉक्टर से) – मुझे अजीब सी बीमारी हो गई है. जब भी मेरी बीबी बोलती है, मुझे कुछ सुनाई नहीं देता !
डॉक्टर – बेवकूफ ! ये बीमारी नहीं, खुदा की नेमत है.


--------------------
संता - तेरे कुत्ते ने मेरी किताब फाड़ दी !
बंता - मैं उसे अभी सजा देता हूँ.
संता - मैंने सजा दे दी.
बंता – कैसे ?
संता – मैं उसकी कटोरी का दूध पी गया … !!!

--------------------

तो भईया कैसी कही... ब्लाग पर अपनी बक बक अब चालू रहेगी..... 

5 टिप्‍पणियां:

Padm Singh ने कहा…

पुनरागमन की बधाइयाँ जी बधाइयाँ.....

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

वाह, हम तो चद्दर ओढ़ कर सो रहे हैं, आनन्द उठाकर हँस रहे हैं।

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन ने कहा…

स्वागत है!

Alok Mohan ने कहा…

mast hai bhai
maza aa gaya,bak bak u hi chalu rakhiye

Alok Mohan ने कहा…

बढ़िया प्रस्तुती

http://blondmedia.blogspot.in/