मंगलवार, 20 अप्रैल 2010

आई पी एल और मेरे देश के मंत्री

भाई लोगों,
सुनी आज की न्यूज़... आई पी एल की बैंड बजने वाली है, पूरा सरकारी अमला, विपक्षी पार्टियाँ सब के सब पीछे लगी हुई हैं की कैसे इसको बैन किया जाए.... पहले गौर फरमाइए देश के भाग्य विधाताओं के आई पी एल पर आये कमेन्ट पर...

लालू यादव : आईपीएल और बीसीसीआई का राष्ट्रीयकरण हो और इन्हें भारत सरकार के खेल मंत्रालय के अधीन लाया जाए।
प्रवासी भारतीय मामलों के केंद्रीय मंत्री व्यालर रवि : आईपीएल हाईप्रोफाइल सट्टेबाजी है और सरकार को इसमें लग रहे पैसों की जांच करनी चाहिए।
मुलायम सिंह यादव : आईपीएल विदेशी खेल है और यह एक प्रकार का जुआ है जिसे बंद कर देना चाहिए।
भारतीय कम्यूनिस्ट पार्टी के नेता गुरुदास दास गुप्ता : आईपीएल में लोग अपना काला धन सफेद कर रहे हंै इसलिए इस पर प्रतिबंध लगना चाहिए।

वैसे कुछ समझ में आया या नहीं.... मालूम नेताओ का दिमाग क्यों ख़राब है? क्योंकि हिंदुस्तान के इतिहास की पहली ऐसी घटना है जिसमे इतना पैसा बरस रहा है और नेताओ पर उसकी एक बूंद भी नहीं टपक रही | अभी शशि थरूर साहब की विदाई ऐसे ही थोड़ी हुई.... भाई उन्होंने गलती कर दी बस... यहाँ मिल बाँट के खाने की परंपरा है और वह चले थे अकेले खाने! भैया हिंदुस्तान की राजनीति को समझो और यहाँ नेता गर्दी करने से पहले मिल बाँट के खाना और खिलाना सीखो.... देखा अकेले अकेले गए और अभी बिना मतलब के सड़क पे आ गए.... वह कहते हैं ना धोबी का .... वैसे ही आप ना यु एन के रहे और ना कांग्रेस के....

वैसा होगा कुछ नहीं.... जिसको जितना पैसा दबाना था उसने दबाया और अभी खेल ख़त्म पैसा हजम.... जिसको लकीर पीटनी है पीटो क्या फर्क पड़ता है यार |

अभी मंत्री और नेता बी सी सी आई को केंद्र सरकार के अन्दर में लाने की बात कर रहे हैं.... ताकि क्रिकेट का हाल भी हाकी की तरह हो जाये.... फिसड्डी ही नहीं नीचे से अव्वल...

वैसे आगे क्या होने वाला है भगवन ही जाने... दस दिन बाद विश्व कप है और हमारे खिलाडी बुरी तरह थके होंगे सभी फिसड्डी साबित ना हो जाये.... पैसा और देश में से मुझे डर है की कहीं शायद फिर से पैसा ना जीत जाये.....


-देव

3 टिप्‍पणियां:

संजय भास्कर ने कहा…

paissa aaj ke yug me sabse bada hai...
jeet to paise ki hi honi hai

VISHAL SINGH SACHAN ने कहा…

Well said...

Kushal raghav ने कहा…

good one article... really if government want to do something for country .. Promote our hockey team... do something good for hockey team... waise sahi hai Bina paise ke na to hockey team ka kuch ho payega .. or neta logon ko kuch nahin milega to aishe hi baatei banate rahenge...