शुक्रवार, 21 जनवरी 2011

हमारी बैंकिंग प्रणाली भी नेताओं की तरह काम करती है यार.... :-देव

भाई लोगों देव बाबु कल सुबह ५ बजे बोले तो अबसे केवल ५ घंटे के बाद बंगलौर प्रस्थान करेंगे... वैसे तो लाइफ बड़ी मस्त कट रही है आज कल.... आफिस में काम इतना है की बस दुर्योधन की सेना वाला हाल है.... बस जान ही निकाल दी है यार....| वैसे आज शाम को एक बहुत ही मस्त वाला पंगा हो गया.... आप लोग ही बताइए की इसका इलाज कैसे किया जाये और कैसे समस्या सुधरे|

अब साहब हमारा सेविंग अकाउंट है एक्सिस बैंक में... और आज शाम को कुछ पैसों की ज़रूरत आने पर हमने घर के नज़दीक धन-लक्ष्मी बैंक के ए टी एम् से पैसे निकलने की कोशिस की... अब भैया फ़ाइनल पैसा देने के टाइम पर ए टी एम् मशीन मर गयी... और हमारे पैसे नहीं आये.... बोले तो अकाउंट से पैसा गायब और मशीन ने पैसा दिया ही नहीं..... फिर पैसा गया किधर... अब सुनिए भाई दोनों ए टी एम् के कस्टमर केयर वालों की बातें.....

एक्सिस:- हमारी साइड से पैसे डेबिट हो गया है आप धन-लक्ष्मी बैंक के कस्टमर केयर को काल करें और उन्हें इस बात की जानकारी दे...
धन-लक्ष्मी :- हम आपकी कोई सहायता नहीं कर सकते, आपको आपके बैंक को काल करना होगा और अपने ब्रांच मैनेजर को काल करने के बाद सारी बात बतानी होगी....
एक्सिस :- जब हमारी साइड से पैसा डेबिट हो चुका है तो फिर हम आपकी किस प्रकार सहायता करेंगे.... आपको धन-लक्ष्मी बैंक को सूचित करें.. उनके ए टी एम् रिकार्ड में ट्रांसेक्सन फ़ेल होना चाहिए और आपकी सहायता केवल धन-लक्ष्मी बैंक ही कर सकता है।
धन-लक्ष्मी :- जी नहीं हम आपकी सहायता नहीं कर सकते, हमारे पास कोई एटीएम रिकार्ड नहीं है सो हम आपकी किसी भी प्रकार से सहायता नहीं कर सकते.....

बस भैया इतना सुनने के बाद फ़िर हमारा पारा चढ गया.... एक तो पैसा चोरी कर लिए हमारा.... और फ़िर बता रहे हो की रिकार्ड नहीं है.... हम कहे की हमको बताओ की तुम्हारे एटीएम नें हमारा पईसा गायब किया यह मंज़ूर करोगे या नहीं.... अगर मंज़ूर करोगे तो फ़िर यह बताओ की हमारा पैसा वापस कैसे मिलेगा..... फ़िर भाई वह आदमी हमको आश्वासन देता हुआ बोला की आप अपने बैंक के केयर में सूचित करें और उनको डिस्प्य़ूट फ़ाईल करनें को कहें.... उसी के आधार पर आगे की कार्यवाही होगी।

अब साहब बताईए, ई का गोरख-धंधा है.... फ़िल-हाल की बात यह है की पैसा भगवान जानें कहां है.... और ना जानें कब तक हमारे पास आयेगा.....
वैसे यह खबर छुपाई भी जा सकती थी मगर हमने सोचा की आप लोगों को भी सावधान कर दिया जाए की किसी और बैंक के ए टी एम् कार्ड से पैसा निकालना नुकसान देय हो सकता है.... बैंक एक दुसरे पे ज़िम्मेदारी मढ़ते रहेंगे.... और आप बे-मतलब में पिसते रहेंगे..... बस मन में एक ही बात आ रही है... हमारी बैंकिंग प्रणाली भी नेताओं की तरह काम करती है यार.. एक दुसरे पर आरोप जड़ दो.... कस्टमर तो आम इंसान है ना... थोड़े से पैसे के लिए कितने दिन मारा मारी करेगा.... ....


बोले तो जय हिंद...
-देव कुमार झा

9 टिप्‍पणियां:

शिवम् मिश्रा ने कहा…

पहले जिस काम से बाहर जा रहे हो उसको को निबटा लो ... फिर इन से भी निबट लेंगे !

वैसे जहाँ तक मेरी जानकारी है पैसा ४८ घंटो में वापस करने का नियम है !

ललित शर्मा ने कहा…


बैंक जिम्मेदार हैं, लेकिन जिम्मेदारी लेने को तैयार नहीं। एक दो जुतियाओ। तभी बात बनेगी।

परदेशी की प्रीत-देहाती की प्रेम कथा

शिवम् मिश्रा ने कहा…


देव बाबु नीचे जो लिंक दे रहा हूँ एक बार उसे देख लेना शायद कुछ काम की लगे !

बैंक 12 दिन में लौटाएं ग्राहकों का पैसा -- रिजर्व बैंक

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

ब्लॉग में राधा-कृष्ण जैसा चित्र, पोस्ट में द्वारका गमन का दुख।

संगीता पुरी ने कहा…

अपने अनुभव हमसे साझा करने के लिए आभार .. आगे से हम भी इस बात का ध्‍यान रखेंगे !!

संजय भास्कर ने कहा…

राधा-कृष्ण

PD ने कहा…

हा हा हा.. अब क्या करें देब बाबू.. परबीन जी की बात सुनके हंसिये नै रुक रहा है.. :D

निशांत मिश्र - Nishant Mishra ने कहा…

मेरे साथ यह गड़बड़ तीन बार हो चुकी है और भाग्यवश तीनों बार रुपये एक सप्ताह में ही वापस आ गए.
रकम छोटी हो तो इंतज़ार कर सकते हैं. बड़ी हो तो अखरता है.

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ ने कहा…

कभी कभी ऐसा भी हो जाता है।

---------
क्‍या आपको मालूम है कि हिन्‍दी के सर्वाधिक चर्चित ब्‍लॉग कौन से हैं?