शनिवार, 12 जून 2010

साठ रुपैया के आठ गोल गप्पे.....

अबे पानी पूरी का का भाव है बे..... आज शाम को गोल गप्पे खाने का मन हुआ तो भाई दो प्लेट गोल गप्पे का ऑर्डर दे दिया गया..... रेट सुन के दिमाग ख़राब..... लो आप भी रेट देख लो और फिर बताओ....


अबे हमको याद है बरेली और बनारस का दिन जब एक रुपैया के बारह गोल गप्पे मिला करते थे.... आज इत्ती तरक्की की तीस रुपैया प्लेट..... तीस रुपैया के चार गोल गप्पे.... साढ़े सात रुपैये का एक.... बहरहाल गोल गप्पे तो लाजवाब थे ही और आठ गोल गप्पे खाने के बाद मजा भी काफी आया... गोल गप्पो की तस्वीर भी यहाँ रखनी जरूरी है यार..... लो गोल गप्पों को खाओ और स्वाद लो....

वैसे अब पुछिए की रात के साढे तीन बने देव बाबा पानी पूरी काहे खिला रहे हैं.... तो भैया आधुनिक जीवन शैली वाले प्राणी हो गये हैं ना... रति-चर हो गये हैं... रात भर जागना और दिन भर चदरिया तान के सोनें में जो आनन्द है भाई... उसका कोई तोड नहीं मालिक.... पानी पूरी खानें के बाद अमिताभ बच्चन साहब का वही गीत याद आ गया था.... इंहा रेती पे पानी का भाव देखो.... अरे वही... ई है बम्बई नगरिया तू देख बबुआ.... लो यू-ट्यूब से वो वाला वीडिओ भी देख लो और क्या.....




बाकी त सब ठीके ठाक है, वीडियो देखो और बोलो.... जय मुम्बई धाम की...

-देव

15 टिप्‍पणियां:

आचार्य जी ने कहा…

आईये जानें .... क्या हम मन के गुलाम हैं!

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन ने कहा…

66 रुपये तो खाली प्रस्तुति के हुए. बिल् छापने और कर अदा कर्ने के तो 10-12 और होने चाहिये.

Udan Tashtari ने कहा…

सही है देव बाबा!! पानी पूरी के ये भाव!!

निर्मला कपिला ने कहा…

जय हो

दिलीप ने कहा…

jay ho bambai dhaam ki...

E-Guru Rajeev ने कहा…

देव बाबा ! वो बीच में हरा-हरा क्या है !!
कोई चटनी है क्या जी !!
अब बीकानेर का पानी-पूड़ी खाओगे तो ६६ रूपिया त देबे न करोगे.
ही ही ही
हम त केवल पचीस का चार ही खाए हैं, आप त हमसे भी बड़े वाले निकले.
तीस में चार. !!
पान्ठो खिलाता तो कितना लेता, ज़रा पता करियेगा. :-)
हमरा बिवाह हो जाएगा तो यहीं पे जायेंगे.
ही ही ही

संजय भास्कर ने कहा…

dekh kar to muh me pani aa gya dev babu

शिवम् मिश्रा ने कहा…

कर लो बेटा कुछ दिन और मौज मस्ती ..................फिर कहाँ ..................???

पं.डी.के.शर्मा"वत्स" ने कहा…

वैसे स्वाद के आगे पैसे क्या मायने रखते हैं :)

सैयद | Syed ने कहा…

पानी पूरी देख के ही मूंह में पानी आ गया... हमें कब खिला रहे हैं मुंबई की पानी पूरी ३० रूपए प्लेट वाली ..

देव कुमार झा ने कहा…

पानी पूरी, गोल गप्पे गजब चीज़ है भाई। वत्स जी ठीक कहे... स्वाद के आगे पईसा कभी कभी पीछे हो जाता है।

@राजीव भाई: बीच वाला पानी पूरी का पानी है भाई.... धनिया का पत्ता है गुरु... ही ही

@सैयद भाई: मुम्बई आयें तो बताएं, आपकी सेवा में तीस रुपईया प्लेट वाली पानी पूरी भी हाज़िर कर दी जाएगी :)

राम त्यागी ने कहा…

भारत में पानी पूरी /गोल गप्पे सरकार को फ्री कर देना चाहिए :)
ग्वालियर में हमने भी १ रुपये के १०-१२ तक पीयें हैं और अब ये भाव ...:(

Vivek Rastogi ने कहा…

खा लो शादी के बाद तो ......

अजय कुमार झा ने कहा…

होईबे करेगा ...आखिर उहां पर जब शाहरूख , आमिर , और सलमान जी लोग कैटरीना ,करीना जी लोग भी गोल गप्पा खाएंगे तो एतना महंगा होईबे करेगा । ठीक किए जो बिलवा इहां छाप दिए , अब यदि गाम जाके ई बताते कि एतना महंगा फ़ूचका खाते हैं तो पकिया लोग कहेगा कि देखा न कहते थे न कि फ़ुचकासी (एयास्सी होता है न जैसे ) कर रहा है बंबई में । बांकी फ़ोटो सानदार आया है

शिवम् मिश्रा ने कहा…

अजय भाई बहुत बहुत धन्यवाद ! आप जानते है क्यों !